एक महीने के बाद 15 जनवरी से बजने लगेंगी शहनाई –

हिन्दू धर्म में 1 माह तक चलने वाले खरमास 15 जनवरी यानी मकर संक्रांति को समाप्त हो गया है | हिन्दू परम्पराओ के अनुसार इन दिनों किसी भी शुभ कार्यों को नहीं किया जाता है |

इस वर्ष 15 जनवरी से शादी विवाह होना शुरू हो जायंगे | साल के 15 जनवरी को पहला शादी का मुर्हत है | 15 जनवरी से ही सभी शुभ व मांगलिक कार्य होना शुरु हो जायंगे |

इस साल शादी के मुर्हत है इन माह में –

इस वर्ष जनवरी, फरबरी, मार्च में शुरुआती वर्ष में शादी के शुभ मुर्हत है | उसके बाद अप्रैल में कोई भी शादी का मुर्हत नहीं है | अप्रैल के बाद मई और जून में शादी के मुर्हत है जिसके बाद 4 माह के लिए श्री हरी के शयन पर जाने से शादी विवाह रोक दी जाती है | जिसके बाद नवंबर और दिसम्बर में शादी के मुर्हत है |

इस तरह से शादी के मुर्हत पुरे वर्ष में तीन है | जिसमे माह जनवरी, फरबरी, मार्च, मई , जून , नवंबर और दिसंबर माह में शादी के मुर्हत है |

प्रेम विवाह के लिए भी है इस दिन है शुभमुर्हत –

जो जोड़े लव मैरिज करना चाहते है उनके लिए वेलेंटाइन डे के दिन यानी 14 फरबरी को शुभ मुर्हत रखा गया है | हालांकि इस दिन आरेंज मैरिज वाले भी जोड़े शादी कर सकते है |

यह दिन  शादी के बंधन और वेलेंटाइन डे उत्सव को जीवनभर मानाने के लिए बेहद अच्छा दिन है | जिसको जोड़े जीवन भर एक ख़ास दिन के रूप में मना सकते है | 14 फरबरी को अनुराधा नक्षत्र में विवाह का शुभमुर्हत सुबह 7 बजकर से लेकर रात 12.26 बजे तक शुभ मुर्हत माना गया है |

यदि आप भी विवाह बंधन में बधना चाहते है तो इस वर्ष 3 सीजन है जिसमे शुभ मुर्हत है | जिन में आप अपने जीवन साथी के साथ एक नया सफ़र की शुरुआत कर सकते है |

ऐसे ही लाभदायक जानकारी के लिए पेज को रिफ्रेश कर के ज्वाइन टेलीग्राम से जुड़े | जिससे हर फायदेमंद जानकारी आप तक पहुचे | आपका दिन मंगल हो ….. जय श्री राम  

यह भी पढ़े :

Please share your friends

Leave a Comment

मथे पर हल्की छोटी बिंदी, कजरारी आँखे देख फेंस की लटकी नजरे शालीन की एक्स वाइफ दलजीत की दूसरी शादी शादी के बाद जीवन को स्वर्ग बना देती है ऐसी लड़कियां धोनी की वाइफ पोज देने में किसी एक्ट्रेस से कम नहीं