सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) कैसे बनते है ?

जिस प्रकार आज पूरी दुनिया डिजिटल हो रही है | हमारे हर काम आज डिजिटल हो रहे है | किसी भी उम्र का व्यक्ति हो छोटा हो या बड़ा वो टेक्नोलॉजी की तरफ बढ़ रहे है | और इस डिजिटल लाइफ में ज्यादा तर बच्चो की रूचि एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) बनने की होती है | (How to become software engineer in hindi)

यदि हम बच्चो से यह पूछे की उन्हें क्या बनना है ? तो ज्यादा तर बच्चो का जबाब आता है – सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer). और यदि हम यह पूछे की सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) कैसे बना जाता है | तो इसकी जानकारी उन्हें नहीं होती है |

यह पोस्ट हमारे उन बच्चो के लिये जो एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) बनने का, जो पूरा प्रोसेस होता है | वो आज इस article में जानेंगे |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) कैसे बनते है ? Software Engineer का काम क्या होता है ? Software Engineer  की योग्यता क्या होती है ? Software Engineer की saraly कितनी होती है ? Software Engineer से सम्बन्धित सभी जानकारी , इस article के लास्ट तक मिल जायेगी | जो आपके लक्ष्य तक पहुचने बहुत मदद करेगी |

Software Engineer का काम क्या होता है ? (What is work Software Engineer ) –

आज हमारे देश में भी अधिकतर स्टूडेंट की रूचि कंप्यूटर क्षेत्र में होती है | और वो अपना भविष्य इस कंप्यूटर क्षेत्र में बनाते है | यानि वो एक Software Engineer बनना चाहते है | क्योकि इस कंप्यूटर क्षेत्र में रोजगार की सम्भावनाये अधिक रहती है |

Software Engineer को हम Software developer भी कहते है | जो कंप्यूटर में मोजूद software को बनाते है | एक Software Engineer, केवल software  ही नहीं वल्कि अन्य काम भी करते है जिन्हें अन्य नाम से भी जाना जाता है –

  • Destop Application Developer
  • Mobile Application Developer
  • Graphics Developer
  • Game Developer
  • Programmer
  • Web Developer
  • Web Designer
  • Data Scientist
  • Security Developer
  • Front – end Developer
  • Backend Developer

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) की skills-

एक softwere engineer बनने के लिये , कंप्यूटर की जानकारी के साथ साथ कोडिंग और प्रोग्रामिंग की जानकारी व कंप्यूटर लैंग्वेज जैसे –

  • C
  • C++
  • HTML
  • Java SCRIPT
  • Python
  • CSS+
  • SQL

आदि कंप्यूटर लैंग्वेज को सिखाया जाता है | जो एक software engineer के लिये बहुत ही महत्वपूर्ण है |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) की योग्यता –

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) बनने की शुरुआत आप जूनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Junior software Engineer) से कर सकते है |

जूनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Junior software Engineer) की योग्यता –

  • साइंस स्ट्रीम से 10th होना अनिवार्य |
  • आप 10th के बाद 12th भी कर सकते है |
  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग व इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से 3 वर्ष का पॉलिटेक्निक कोर्स |

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer) बनने के लिये कोर्सेज (Software Engineering Courses)-

  • Diploma in Computer science Engineering
  • Diploma in Information & Technology
  • BCA (Bachelor of Computer Application)
  • B.Sc (Engineering) in Information & Technology
  • B.Tech in Computer science / Information & Technology

Top College / university for Software Engineering-

  • IIT Kanpur (Indian Institute of Technology, Kanpur)
  • IIT Hyderabad (Indian Institute of Technology, Hyderabad)
  • IIT Banglore (Indian Institute of Technology Banglore)
  • IIT Delhi (Indian Institute of Technology Delhi)
  • IIT Madras  (Indian Institute of Technology Madras)
  • IIT Indore (Indian Institute of Technology, Indore)
  • CSJM University Kanpur
  • Amity University
  • SRM University
  • Lovely Proffesional University

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के जॉब सेक्टर (Job sector for Software Engineering) –

ज्यादा तोर लोग समझते है कि सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग में प्राइवेट क्षेत्र में ही बना सकते है | पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं है | हर इंजीनियरिंग ब्रांच की तरह , इस ब्रांच में भी दोनों ही सेक्टर प्राइवेट व गवर्नमेंट में अपना एक बेहतर  करियर बना सकते है | 

Software Engineering Job opportunity in Government sector –

  • BSNL (Bharat Sanchar Nigam Limted)
  • BARC ( Bhabha Atomic Resarch Centre)
  • DRDO ( Defence Research and Development Organisation)
  • NPCIL (Nuclear Power Corporation of India Limted)
  • IOCL (Indian Oil Corporation Limted)
  • BHEL (Bharat Heavy Electronic limted)
  • ECIL (Electronic Corporation of India Limted)
  • GAIL (GAIL India limted)
  • HAL (Hindustan Aeronautics Limted)
  • IES (Indian Engineering Services)
  • Indian Railway
  • Defense services
  • Banking Sector

Software Engineering Job opportunity in Private sector –

  • TCS
  • Google
  • HCL Technologies
  • Infosys
  • Wipro
  • Tech Mahindra
  • Microsoft
  • amazon
  • Flipkart
  • Dell Technologies

सॉफ्टवेयर इंजीनियर (Software Engineer salary) सैलरी कितनी होती है ? –

एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी दोनों ही सेक्टर में अच्छी होती है | यदि हम गवर्नमेंट सेक्टर की बात करे तो शुरुआती क्रम में 20 से 30 हज़ार रुपए महीने की सैलरी मिलती है | जो अनुभव पर 80 से 1 लाख रुपय महीने तक भी पहुच सकती है |

यदि हम प्राइवेट सेक्टर की बात करे , तो प्राइवेट सेक्टर में इस क्षेत्र में बहुत अच्छी सैलरी मिल जाती है | शुरुवात में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर की सैलरी 15 से 25 हज़ार रुपय से शुरुआत होती है | जो अनुभव पर 3 से 4 लाख रुपय महीने पर भी जा सकती है |

यह भी पढ़े :

Conclusion –

हम उम्मीद करते है कि यह article (How to become software engineer in hindi) पसंद आया होगा | software engineer से सम्बन्धित सभी जानकारी, इस article में देने का प्रयास किया है |

यदि आपको लगता है इस लेख में कुछ और सुधार की आवश्यकता है तो हमे कमेंट करे | अपने किसी भी सवाल के लिये कमेंट बॉक्स में कमेंट करे | अपने मित्रो व परिवार के उस बच्चे तक यह article जरुर शेयर करे | जो एक software engineer बनने का सपना देख रहा हो |

ऐसे ही एजुकेशन व अन्य article पढने के लिये हमारे पोर्टल से जुड़े रहे | अपना कीमती वक़्त देने के लिये बहुत बहुत धन्यावाद |

Please share your friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!