मैकेनिकल इंजीनियर ( Mechanical Engineer in hindi ) कैसे बनते है ? (Mechanical Engineer kaise bane)-

 मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer in hindi) कैसे बनते है ? मैकेनिकल इंजीनियर के लिये क्या योग्यता चाहिए होती है ? मैकेनिकल इंजीनियर की salary कितनी होती है ? मैकेनिकल इंजीनियर से सम्बन्धित सभी जानकारी , इस article के लास्ट तक मिल जायेगी |

इंजीनियरिंग की top ब्रांचो में से एक ब्रांच मैकेनिकल इंजीनियरिंग भी है | जिन बच्चो को मशीनों से अधिक प्रेम होता है | व मशीनों को वो अच्छे से समझना चाहते है | तो वो मैकेनिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर, बनाना पसंद करते है |

12th के बाद बच्चा व पेरेंट्स की समस्या होती है कि वो अपने बच्चे को किस क्षेत्र में जाने के लिये प्रेरित करे | और अपने रिश्तेदारों व करीबो से पूछने लग जाते है कि अब हम अपने बच्चे को किस क्षेत्र में भेजे |

हम इस article के माध्यम से , बच्चो व उनके पेरेंट्स से बोलना चाहूँगा कि किसी और से पूछने के बजह , आप अपने बच्चे से खुद पूछिए कि उसकी रूचि किस क्षेत्र में है |

जिस क्षेत्र में बच्चे की रूचि है | उस क्षेत्र में अपना भविष्य बनाने दे | यदि आपकी रूचि मैकेनिकल इंजीनियरिंग में है तो यह आर्टिकल आपके लिये ही है |

मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer in hindi) kaise bane-

credit-pixabay

जूनियर मैकेनिकल इंजीनियर की योग्यता –

  • साइंस स्ट्रीम से 10th होना अनिवार्य |
  • आप 10th के बाद 12th भी कर सकते है |
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग से 3 वर्ष का पॉलिटेक्निक कोर्स | 

मैकेनिकल इंजीनियर की योग्यता –

  • साइंस स्ट्रीम से 12th अनिवार्य
  •  साइंस स्ट्रीम (मैथ्स , फिजिक्स और केमिस्ट्री) में 60% होना अनिवार्य | जिससे आप एंट्रेंस एग्जाम के लिये apply कर सकते है |
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग से 4 वर्ष की इंजीनियरिंग डिग्री पूर्ण करने पर |

 मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer in hindi) बनने के लिये कोर्स –

यदि आपको 10th के बाद मैकेनिकल इंजीनियर बनना चाहते है तो आप पॉलिटेक्निक मैकेनिकल इंजीनियरिंग से 3 वर्ष का कोर्स कर सकते है | जिसको पूरा करने बाद आप जूनियर मैकेनिकल  इंजीनियर बन जाते है |

10+2 के बाद B.tech में अच्छे कॉलेज में प्रवेश के लिये, AIEEE (All India Engineering Entrance Examination) या IIT (Indian Institutes of Technology) के बेहतर इंजीनियरिंग कॉलेज मिलते है | जिसके लिये आपको कड़ी मेहनत करने पड़ती है | जो हर वर्ष लाखो बच्चे एंट्रेंस एग्जाम देते है |

आप स्टेट लेवल के इंजीनियरिंग कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग से अपनी इंजीनियरिंग कर के , एक प्रोफेशनल मैकेनिकल इंजिनियर बन जाते है |

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में मास्टरी करना चाहते है तो आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग से ही M.tech (Master of technology) कोर्स को कर सकते है | जिससे करने के बाद आपका भविष्य और अधिक उज्जवल बन जायेगा |

Mechanical Engineering Subjects (मैकेनिकल  इंजीनियरिंग के कुछ प्रमुख सब्जेक्ट्स)-

  • Introduction of Computing  (Semeter-2nd / 1st Year)
  • Engineering Mechanics  (Semeter-2nd / 1st Year)
  • Basic Electronic Laboratory  (Semeter-2nd / 1st Year)
  • Thermodynamics  (Semeter-3nd /2ndYear)
  • Solid Mechanics  (Semeter-3nd /2ndYear)
  • Engineering Materials  (Semeter-3nd /2ndYear)
  • Fluid Mechanics  (Semeter-4th /2ndYear)
  • Manufacturing Technology  (Semeter-4th /2ndYear)
  • Kinematics of Machinery (Semeter-4th /2ndYear)
  • Design of Machine Elements  (Semeter-5th /3rdYear)
  • Electrical Machines (Semeter-5th /3rdYear)
  • Mechanical Measurements (Semeter-6th /3rdYear)
  • Control Systems  (Semeter-6th /3rdYear)
  • Applied Thermodynamics (Semeter-7th /4thYear)
  • Industrial Engineering and operation Research (Semeter-8th /4thYear)

Best Collage of Mechanical Engineering (टॉप  मैकेनिकल इंजीनियरिंग के कॉलेज)-

  • IIT Delhi (Indian Institute of Technology Delhi)
  • IIT Bombay (Indian Institute of Technology, Bombay)
  • IIT Kanpur (Indian Institute of Technology, Kanpur)
  • IIT Khargpur (Indian Institute of Technology, Khargpur)
  • IIT Roorkee ((Indian Institute of Technology, Roorkee)
  • IIT Guwahati (Indian Institute of Technology, Guwahti)
  • IIT Hyderabad (Indian Institute of Technology, Hyderabad)
  • IIT Indore (Indian Institute of Technology, Indore)
  • IIT (BHU) Varanasi (Indian Institute of Technology, Varansi)

मैकेनिकल इंजीनियरिंग क्या होती है ? (What is Mechanical Engineering in Hindi)-

मैकेनिकल शब्द से ही ज्ञात हो जाता है कि हम इस मैकेनिकल इंजीनियरिंग में मशीनरी के मैकेनिकल सिस्टम के बारे में पढ़ते है |  मैकेनिकल इंजीनियरिंग को अगर बहुत सिंपल शब्दों में डिफाइन करू |

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में हम मशीन का मैकेनिकल सिस्टम ,टूल्स की डिज़ाइन व प्रोडक्शन , मैकेनिकल पॉवर का उत्पादन आदि के बारे में पढ़ते है |

यदि आप मैकेनिकल इंजीनियरिंग में अपना करियर बनाना चाहते है | तो जरुरी है कि आपको को इन  मैकेनिकल कांसेप्ट जैसे – Mechanics , Thermodynamics, Solid Mechanics , Kinematics of machinery , Design machinery system, Mechanical Measurement , Control system, Industrial Engineering etc की अच्छे से जानकारी हो |

मैकेनिकल इंजीनियरिंग के जॉब सेक्टर (Job sector for  Mechanical Engineering) –

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद , एक मैकेनिकल इंजिनियर की प्राइवेट या गवर्नमेंट सेक्टर, हर प्रोडक्शन प्लांट , थर्मल प्लांट आदि इंजीनियरिंग के हर क्षेत्र में मैकेनिकल इंजीनियरिंग की आवश्यकता जरुर पड़ती है |

इसी कारण से सदियों से व आने वाले समय में भी  मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिमांड हमेशा ही रहती है | इसी लिये अधिकतर तकनिकी प्रेमी अपना भविष्य इस मैकेनिकल इंजिनियर (Mechanical Engineer)  में खोजते है |  

Mechanical Engineering Job opportunity in Goverment sector –

वैसे तो हर इंजीनियरिंग क्षेत्र में मैकेनिकल इंजीनियर की जरूरत होती है | पर यदि आप गवर्मेंट सेक्टर में अपना भविष्य बनाना चाहते है |

हमारे देश के जितने भी सरकारी इंजीनियरिंग के पदों की जगह निकलती है | तो उसमे सबसे अधिक पद एक मैकेनिकल इंजीनियर के ही होते है |

आप यहा से अंदाजा लगा सकते है कि एक मैकेनिकल इंजीनियर की डिमांड कितनी रहती है |

Best Government companies for Mechanical Engineering-

  • Indian Railway
  • NTPC (National Thermal Power Corporation Limted)
  • BHEL (Bharat Heavy Electricals Limted)
  • DRDO ( Defence Research and Development Organisation)
  • ISRO (Indian Space Resarch Organisation)
  • SAIL ( Steel Authirity of India)
  • IOCL (Indian Oil Corporation Limted)
  • Air Port Authority
  • Aeronautical Development Agency

Mechanical Engineering Job opportunity in Private sector –

मैकेनिकल इंजिनियर का भविष्य प्राइवेट सेक्टर में भी है | जैसा हमने बताया हर इंजीनियरिंग प्लांट में मैकेनिकल इंजीनियर की डिमांड हमेशा बनी ही रहती है |

मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिमांड न कभी भी कम हुई है और न ही कभी भी भविष्य में होगी |

Best Private Companies for Mechanical Engineering-

  • Tata Motors
  • Ashok Leyland
  • Hero MotoCrop
  • Honda Motor
  • Bajaj Auto ltd
  • Ford motor ltd
  • Maruti suzuki ltd
  • Hundai Motor india Limted
  • Mahindra Group

मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer) के कुछ महत्वपूर्ण पद –

प्राइवेट हो या गवर्नमेंट दोनों ही सेक्टर के प्लांट में एक मैकेनिकल इंजीनियर का नाम बाहरी दुनिया के लिये होता है | पर प्लांट के अंदर कुछ प्रमुख पद इस प्रकार होते है –

  • Production Engineer
  • Maintinence Engineer
  • Instrumentation Engineer
  • Process Engineer
  • Quality Engineer
  • Product Designing Engineer etc .

Mechanical engineer ki sarely kitni hoti hai ( मैकेनिकल इंजीनियर को कितने रुपय मिलते है ?) –

मैकेनिकल इंजीनियरिंग करने के बाद दोनों ही सेक्टर में आप एक अच्छा भविष्य बना सकते है | यदि हम गवर्नमेंट सेक्टर की बात करे | तो गवर्नमेंट सेक्टर में एक शुरुआत मैकेनिकल इंजीनियर को 30 से 40 हज़ार रुपए मिलते है | जो समय के साथ साथ और अनुभव पर यह आकड़ा 1 से 1.5 लाख रुपय महीने का हो जाता है |

यदि प्राइवेट सेक्टर की बात करे | तो प्राइवेट सेक्टर में एक मैकेनिकल इंजीनियर की शुरुआत sarely 20 से 25 हज़ार रुपय होती है जो अनुभव पर लाखो तक पहुच जाती है |

यह भी पढ़े –

Conclusion-

हम उम्मीद करते है की मैकेनिकल इंजीनियर (Mechanical Engineer) कैसे बनते है ? मैकेनिकल इंजीनियर के लिये क्या योग्यता चाहिए होती है ? मैकेनिकल इंजीनियर की salary कितनी होती है ? मैकेनिकल इंजीनियर से सम्बन्धित सभी जानकारी इस article में आपको प्राप्त हो गयी होगी |

यदि आपको लगता है कि इस article में कुछ सुधार की आवश्यकता है तो हमे comment box में जरुर बताये | यदि आपका कोई भी सवाल है तो आप कमेंट बॉक्स में अपनी राय व सवाल पूछे |

यह article आपको अच्छा लगा हो अपने मित्र व बच्चो तक जरुर शेयर करे | ऐसे ही लाभकारी व ज्ञान को बढाने वाले article पढने के लिये हम से जुड़े रहे | अपना कीमती वक़्त देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद |

Please share your friends

1 thought on “मैकेनिकल इंजीनियर ( Mechanical Engineer in hindi ) कैसे बनते है ? (Mechanical Engineer kaise bane)-”

Leave a Comment

वास्तिविक में भी है बेहद बोल्ड है ओटीटी प्लेटफार्म एक्ट्रेस स्नेहा पॉल हेरान कर देने वाले चेहरे के लिए आलू के फायदे 48 साल की हो जाने पर भी मात देती है नई एक्ट्रेस को तरबूज के 7 फायदे जो हर किसी को मालूम होना चाहिए