*किन्नौर *

हमारे देश में ऐसे अनेक सुंदर पर्यटन-स्थल है , जिनके बारे में जानने की बात तो छोड़ो , उनका नाम भी लोग आमतोर पर नहीं जानते यहाँ तक की पढ़े लिखे लोगो को भी जानकारी नहीं होती |

ऐसे स्थान अधिकतर जम्मू-कश्मीर या उसके आसपास है | जम्मू कश्मीर से सटे प्रदेश हिमाचल प्रदेश में भी कई सुंदर व मन को महोक जाने वाले पर्यटन स्थल है | जिनमे से एक किन्नौर भी है | चलिए आज एक और रोमंचक व सुंदर जगह का सफर करते है | जिसको देखने के बाद आपका मन जरुर करेगा यहा की सहर करने को |

हिमाचल के किन्नौर का एक दृश्य

कुल्लू जाने का बेहतर समय-

किन्नौर जाने का उपयुक्त समय यदि आप गर्मियों में जाना चाहते है तो जून से सितंबर तक का समय रहता है | उसके बाद वहा नुकीली ठंडी हवाये चलने लगती है और बर्फ की मोटी परते जम जाती है | और यह स्थिति मई महा तक बनी रहती है | मेदनी क्षेत्र के लोग मई से जून की गर्मी से राहत मिलने के कारण किन्नौर जाते है |

किन्नौर की सुंदर बर्फबारी

यदि आपको बर्फबारी देखना व उसमे खेलना पसंद है तो आप सर्दियों में सितंबर के बाद जा सकते है | जहा आपको बर्फबारी का लुफ्त उठाने का अवसर मिलेगा |

किन्नौर में देखने के लिये प्रमुख स्थल-

वेसे तो पूरा हिमाचल प्रदेश बेहद खुबसूरत है पर  किन्नौर जगह भी उन खुबसूरत जगह में शामिल होती है | जहा पर्यटक यहा की खूबसूरती में खो जाते है | यहा पर्यटक अपने परिवार दोस्तों व नये विवाहित जोड़े भी हनीमून मनाने के लिये इस जगह का चुनाव करते है |

यहा की वादिया , यहा की बर्फबारी व यहा को छोटे-छोटे रहने के लिये घर काफी आकर्षित होते है | जिनकी सुविधा व प्राकृतिक सोंदर्य देख कर सब अपने आपको इस सोंदर्य को समर्पित कर देते है |

किन्नौर के प्रमुख स्थल-

नाको-

किन्नौर क्षेत्रमें ही राष्ट्रिय राजमार्ग संख्या -22 पर खांबग्राम से 7 किलोमीटर दूर नाको नामक एक झील है जो पर्यटकों को बेहद पसंद आती है | यहा आपको अनेक बाग मिल जायेंगे जहा पर अपने परिवार के साथ कई घंटो तक बेंठ कर , झील का आनंद ले सकते है |

यह झील काफी उचाई पर स्थित है जिसके लिये कई रस्ते बनाये गये है | झील के किनारे छोटी व सुंदर बस्ती भी है | जो देखने पर बेहद ही सुंदर दिखती है |

सांगला घाटी –

बेहद रोमांचक दृश्य

 किन्नौर के बगल में ही स्थित है सांगला घाटी – इस पूरे क्षेत्र की यह सबसे सुंदर जगह है , जहा से जो भी पर्यटक व नये विवाहित नवयुगलो का वापिस लोटने का जी ही नहीं करता |

इस सुंदर व रोमांचित स्थान को कई लोग कुल्लू – मनाली से अधिक सुंदर जगह मानते है | यहा सतरंगे फूल , मखमली घास, सफेद धारा वाली बस्पा नदी , उस पर बना लकड़ी का छोटा सा पूल , आसपास पहाड़िया तथा हराभरा जंगल , सेबो के बाग , मधुर संगीत , छोटी छोटी दुकानों पर गर्म चाय व साथ में पकोड़े , यानि हर कदम पर एक नया सपना साकार होता प्रतीत होता है |

सांगला घाटी जाने के लिये साधन-

सांगला घाटी जाने के लिये भी जून से सितम्बर का समय ठीक रहता है | शिमला से सांगला घाटी के लिये हर रोज सुबह सीधी बस रवाना होती है | जो कई घाटियों व ऊँचे पहाड़ो से गुजरती है जो आपका सफर और रोमांचक बना देता है |

कुछ अन्य और घुमने के योग्य स्थान –

किन्नौर की ऊँची ऊँची पहाड़ी

किन्नौर में सांगला घाटी के आलावा कुछ और अन्य खुबसूरत जगह है जिनमे से कल्पा घाटी, नारकंडा भी शामिल है |

किन्नौर पहुचने के साधन-

दिल्ली से किन्नौर की कूल दूरी 614 किलोमीटर है | दिल्ली से शिमला के लिये आपको कई ट्रेन जैसे- हिमालयन क्वीन, कालका शतब्दी, कालका सुपरफ़ास्ट आदि ट्रेन  मिल जायेंगी | जिनमे आप अपना रिजर्वेशन करवा के सफर का आनंद ले सकते है |

यहां भी घुमने जाये –

किन्नौर में ठहेरने के लिये होटल-

ठहरने के लिये स्थान

किन्नौर  के पास ही एक खुबसूरत बस्ती है जिसका नाम है पियो |  किन्नौर के आसपास घुमने के बाद आप पियो में आकर कई होटल आपको उचित दामो में ठहेरनेके लिये मिल जायेंगे | क्योकि जब आप किन्नौर में या आसपास जगह को घुमने के बाद आपको एक अच्छी सी जगह की जरूरत पड़ेगी जहा आप ठहर कर आराम कर सकते है | व अगले दिन धुमने का प्लान भी ठीक तरह से कर पायेंगे |

यात्रा को सुखद , सुंदर व यादगार बनाने के लिये कुछ बातो को घ्यान में अवश्य रखना चहिये –

  • अपने परिवार के साथ मिलकर सभी के साथ यह विचार कर ले कि यात्रा कहा जाना है ? यदि आपकी ज़ेब अनुमति दे , तो कम से कम 1000 किलोमीटर की दूरी तय करे | यदि आप ट्रेन से सफर करते है | तो इस दूरी से को पूरा करने में 14 से 18 घंटे लग जाते है | जो कि आपको अपने परिवार के साथ इस समय को बिताने का अवसर मिलता है | इन लम्हों का अनुभव व आनंद ही कुछ अलग होता है | साथ ही कुछ घर लाये हुए खाने की चीजो का स्वाद और भी अधिक बढ़ जाता है | साथ ही हर स्टेशन से कुछ न कुछ खाने की चीजे व सुबह के वक़्त स्टेशन की गर्म कुल्लड वाली चाय व पकोड़े सफर को और भी अधिक सुहाना बना देता है |
  • आपको अपनी ट्रेन का रिजर्वेशन पहले से ही करा देना है ताकि आपके पूरे परिवार का रिजर्वेशन कंफ़र्म हो जाये | जिससे आपके सफर में कोई भी बांधा न आ सके |
  • अपनी इच्छा की यात्रा का चुनाव का ध्यान रखकर पहले बजट बना ले | साथ ही अपना एटीएम कार्ड साथ रख ले व ध्यान रखे सफर के दोरान अधिक पैसे साथ न रखे |
  • यात्रा पर रवाना होने के दो दिन पहले से ही यात्रा पर साथ ले जाने वाली सभी चीजो की सूची बना ले | जैसे- एटीएम कार्ड , मोबाइल चार्जर , कपडे , खाने की चीजे | ऐसे करने से साथ ले जाने वाली चीज नहीं छूटेंगी |
  • यात्रा के दोरान हल्के और आरामदायक कपड़े ही ले जाना चहिये | वो भी आवश्यकता अनुसार, अधिक नहीं |

हम उम्मीद करते है यह सफर आपको बहुत पसंद आया होगा | यदि आप इस जगह जा चुके है या फिर जाने का प्लान कर रहे है तो नीचे दिये कमेंट बॉक्स में जरुर बताये |

यदि आप भारत में किसी भी जगह जाना चाहते है तो हमे कमेंट बॉक्स में बताये | उस जगह की सम्पूर्ण जानकारी हमारी टीम 48 घंटे के अंदर article के माध्यम से पुब्लिस कर देगी | हर अपडेट के लिये नीचे दिये bell icon को प्रेस करे | जिससे हर जानकारी आप तक पहुचे | आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद |

Leave a Comment