एलोवेरा की खेती ( Aloevera farming business ) सिर्फ 1 बीघा में एक बार 40 से 50 हज़ार रूपए खर्च पर 5 साल तक देता है लाखो रूपए पढ़िए पूरी जानकारी

एलोवेरा (Aloevera farming) जिसको ग्रामीण क्षेत्र में ग्वारपाठा भी बोला जाता है | येही एलोवेरा ( ग्वारपाठा ) प्रचीन समय से आयुर्विज्ञान ( चिकित्सा ) क्षेत्र में हमेशा से प्रयोग में लाया जा रहा है |

एलोवेरा हमारे जीवन में कितना महत्वपूर्ण हो गया है यह बात बताने की आवश्यकता नहीं है | इसके गुण से भली भांती परिचित है | आज कल हर बड़ी कम्पनी natural aloevera का प्रोडक्ट बाजार में दे रही है व अच्छा मुनाफा कमा रही है |

एलोवेरा को कई प्रकार की दवाइयों में उपयोग में लाया जाता है | एलोवेरा से साबुन , face wash , aleovera jel आदि सौन्दर्य प्रोडक्ट बनाये जाते है | इसी लिए एलोवेरा की हमेशा market में मांग रहती है | आईये देखते है की इस एलोवेरा के business को केसे शुरू करे –

एक नजर-    

नौकरी से हमेशा जिंदगी काटी जाती है व business से जिंदगी जी जाती है | नौकरी से हम जिंदगी काट तो लेगे पर सपने पूरे business ही करते है | चुनाव आपको करना है जिंदगी काटनी है या जीनी है |

One think the change life in Hindi ( E-book )

अगर आप अपने जीवन में सफल व बहुत पैसे कमाना चाहते है | तो यह E-book आपकी पूरी जिन्दगी बदल सकती है | आपने अक्सर सुना होगा कि एक सफल व्यक्ति बुक्स जरुर पढ़ता है | क्योकि बुक्स हमे ऐसी सीख देती है जो अनमोल होती है | इस E- Book में ऐसे सीक्रेट बिज़नस की सम्पूर्ण जानकारी दी गयी है | जो बेहद ही कम लोगो को जानकारी है |

बहुत कम निवेश में सिर्फ 5 से 10 रुपय के निवेश में आपको कुछ ही महीने में 50 से 90 हज़ार तक कमा के दे सकता है | इस ई –बुक ने कई लोग की जिंदगी बदली है | और आगे भी बदलेगी | इस ई-बुक से खुद हम लाखो रुपय कमा रहे है | दोस्तों 199./- रुपय बेहद ही छोटी रकम होती है जो अक्सर लोग खाने पीने में खर्च कर देते है |

पर यह 199./- रुपय की छोटी सी रकम आपके पूरी जिंदगी को बदल सकती है | साथ ही इस ई – बुक को खरीदने वाले लोगो को एक अवसर प्राप्त होगा | जिसमे वो जीरो इन्वेस्टमेंट के साथ घर से लाखो रुपय कमा सकते है |

आज यह 199./- रुपय आपके आने वाले भविष्य या सफलता पर निर्भर करता है | आप स्टूडेंट्स, हाउसवाइफ, किसी भी उम्र का व्यक्ति हो | चाहे वो जॉब या कोई बिज़नस भी करता हो | उसके बाद भी आप इस ई – बुक में बताये गयी बातो से अपना जीवन को नये शिखर पर लाया जा सकता है |

इस 199./- रुपय रकम से अधिक फोन के रिचार्ज हो जाते है | पर बहुत कम लोग अपने जीवन को बदलने के लिए इन्वेस्ट करते है | यह 199./- रुपय कि इन्वेस्टमेंट आपको जिंदगी भर लाखो रुपय रिटर्न कर के दे सकती है |

आज निर्भर आप पर करता है इस छोटी रकम से अपने जीवन को परिवर्तित करना चाहते है या जिस तरह जीवन वितीत कर रहे है वेसा ही करना चाहते है | अपने आप से एक बात अवश्य पूछे जो काम आज आप कर रहे है क्या उस काम से आपके सभी सपने पूरे हो सकते है यदि जबाब आये हाँ तो आपको इस ई – बुक खरीदने की आवश्यकता नहीं है और यदि जबाब आये नहीं तो आप को पता है क्या करना है ?

 हमारी एक्सपर्ट व बिज़नस एडवाइजर ने ऐसे बिज़नस के बारे में बताया गया है जिन्होंने ई – बुक का मूल्य 999./- रुपय रखा गया | पर स्टूडेंट्स को ध्यान में रखते हुए यह 999./- रुपय एक स्टूडेंट व निम्न स्थर के व्यक्ति के लिये बेहद ही अधिक हो सकते थे |

इसलिए हमारी टीम ने सिर्फ़ 199./- रुपय रखा जिससे हर स्टूडेंट्स अपनी मंजिलो के रास्ते को देख सके व जीवन में बेहद ही सफल हो सके | ई-बुक अभी 50% डिस्काउंट में मिल रही है |

यानी अभी आप इस ई –बुक को खरीदते है तो सिर्फ 99./- रुपय में यह ई –बुक आपको प्राप्त हो जायेगी | जरा विचार करे यह 99./- रुपय कितनी छोटी रकम है जो आपको महीने के लाखो रुपय के रिटर्न के रूप में देगी | Amazon पर सर्च कर के  या नीचे दिये Buy Now E-Book से ई – बुक खरीदे |

Buy Now E-Book

एलोवेरा ( ग्वारपाठा Aloevera farming ) की खेती के लिए किस प्रकार की जमीन होनी चाहिए व कितनी जमीन में यह business शुरू कर सकते है –

एलोवेरा ( ग्वारपाठा ) की खेती वेसे तो हर प्रकार के खेत की मिट्टी में हो जाती है पर यदि रेतीली मिट्टी में अगर हो तो इसकी पैदावार में वृधि हो जाती है | एलोवेरा ( ग्वारपाठा ) की खेती करने में इसकी लम्बी लम्बी क्यारिया बनायीं जाती है |

हर क्यारियों में लघभग 2-2 foot की दूरी व हर पोधे में भी 2-2 foot की दूरी होना आवश्यक होता है क्योकि एलोवेरा की पत्तिया बड़ी-बड़ी होती है व दूरी बनाने से पोधे अधिक बड़े होंगे | जितना पोध की पत्तिया बड़ी होगी मुनाफा उतना ही अधिक होगा |

इस एलोवेरा ( ग्वारपाठा ) की खेती के business को कम से कम 1 बीघा जमीन से शुरुआत कर सकते है जो की एक साल में 2 बार लाखो रूपए देता है |

एलोवेरा (Aloevera farming) का बीज कोन सा व किस जगह से ख़रीदे-

एलोवेरा   बीज / पोध कई प्रकार के होते है | पूरे विश्व में एलोवेरा  की 275 प्रजातियां होती है जिसमे से जो अधिकतर बड़ी बड़ी कम्पनी की मांग होती है वो अच्छी hybride बीज की मांग करते है जिसमे सबसे अच्छा Aloevera Barbadensis miller  है |

जिसकी मांग कम्पनी अधिक करती है | फर्क इसमें इसलिए होता है क्योकि यह प्रजाति ऑर एलोवेरा की प्रजाति से अधिक बड़ा व इसमें अधिक गुदा (पल्प) निकलता है इस वजह से इस प्रजाति की मांग रहती है |

यह बीज या पोध आप अपने लोकल जगह से भी ले सकते है व आप इसको online , india mart से  भी ले सकते है |

एलोवेरा (Aloevera farming) के पोधो की रोपाई किस महीने में व कैसे करे –

एलोवेरा पोध को आप फरबरी से लेकर सितम्बर तक कर सकते है परन्तु जानकार के अनुसार फरबरी से मार्च और  जून व जुलाई में करना बताते है इन महीने में करने से यह अधिक उत्पादन देते है जिससे अधिक मुनाफा होता है | अच्छी उपज के लिए अच्छी नस्ल का चुनाव कर के इन महीने में रोपाई की जानी चाहिए |

  •  भूमि को एक-दो बार जुताई करे व उसके बाद भूमि को समतल करे |
  • जुताई के बाद इसमें गोबर की खाद डाले |
  • 2 foot की दूरी को लेकर लम्बी, उची-उची क्यारिया बनाये व पोध लगा दे |
  • पोध लगाने के बाद इन क्यारियों पर मिट्टी चढ़ा दे ताकि पोध की सभी जड़े मिट्टी में दब जाये
  • पोध रोपण के बाद सिचाई करे एक सर्वे में पता लगा है की साल में 4-5 बार सिचाई करने से पतियों में पल्प ( गुदा ) का उत्पादन अच्छा होता है
  • पोध रोपण के 8 से 10 महीने में कटाई हो सकती है व एक साल के बाद साल में 2 बार कटाई की जाती है |

एलोवेरा (Aloevera farming) का business किस किस राज्य में कर सकते है-

एलोवेरा का business उत्तर प्रदेश , मध्य प्रदेश , हरियाणा , दिल्ली , राजस्थान , पंजाब राज्य में एलोवेरा का business कर सकते है |

निवेश-

जानकार के अनुसार  एलोवेरा के  business में निवेश बहुत कम व मुनाफा बहुत अधिक है क्योकि इस पोध को सिर्फ एक बार लगाने पर यह पोध 5 साल तक चलती है |

जो हमे एक साल के बाद हर 6 महीने में एक बार कटाई कर सकते है मतलब एक साल में 2 बार मुनाफा सिर्फ एक बार पोध के खर्च में 5 साल मुनाफा |

एक बीघा में 12,000 पोध लगा सकते है जिसका खर्च 40 से 50 हज़ार रूपए आता है यह खर्च आपको 1 बार ही करना होता है उसके बाद इसकी पत्तिया तोड़ी जाती है साल में 2 बार जिससे हमे काफी अच्छा मुनाफा होता है |

लाभ-

1 बीघा में लघभग 12,000 पोध लगती है | एक पोधा लघभग 3 से 4 kg पत्तिया देता है जो की एक पत्ती 5 से 6 रूपए जाती है | एक पोधा लगभग 18 से 20 रूपए देता है | हम कम से कम 16 रूपए मानते है जो की 12,000 पोधे की कीमत  1,92000 रूपए होती है यानि साल भर में 2 बार कटाई होगी साल भर का कम से कम 3 लाख 84 हज़ार व पांच साल का 19 लाख 20 हज़ार रूपए सिर्फ 40 से 50 हज़ार के निवेश पर |

आप चाहे तो इसके गुदे को निकल कर या सिर्फ पत्तिया बेंच कर दोनों तरीके से रूपए कमा सकते है |

यह भी business देखे –

एलोवेरा (Aloevera farming) को कहा पर बैचे –

इस एलोवेरा business की यह खासियत है की इसके production के बाद इसको बेचने की कोई भी समस्या नहीं है | क्योकि वर्तमान में इसका उपयोग सोंदर्य प्रोडक्ट व हेल्थ केयर में दवाइयों में उपयोग लिया जाता है |

देश के बड़ी बड़ी कम्पनी जैसे पंतजलि ,वैधनाथ आदि बड़ी कम्पनी को एरोवेला की मांग सदा ही रहती है | आने वाले समय में इसकी ऑर अधिक मांग होती चली जा रही है |

कम्पनी आपसे 2-4 साल का contract कर लेती है जिससे वो खुद आपका एलोवेरा ले जाती है | आप हरियाणा , दिल्ली, उतराखंड में अपने production को दे सकते है |

आखिर कम्पनी इतना एलोवेरा क्यों लेती है ?

अधिकतर लोग अब सोंदर्य प्रोडक्ट में केमिकल प्रोडक्ट को छोडकर नेचुरल प्रोडक्ट को उपयोग में लेना अधिक पसंद करते है व चिकित्सा क्षेत्र में भी इनकी बहुत मांग है |

कम्पनी खुद एलोवेरा नहीं बना सकती इसलिए वो खुद एरोवेरा लेती है ऑर अपने प्रोडक्ट को market में सेल करती है ऑर एक मोटा मुनाफा कमाती है ऑर इस प्रकार से यह चेन चलती रहती है |

इंजीनियरिंग की नोकरी छोडकर कर रहे है खेती-

नोएडा की यूनिवर्सिटी गलगोटिया इंजीनियरिंग के प्रोफेसर  श्री मदन शर्मा ने बताया की वो अपने गाँव जो की जिला अलीगढ़ पड़ता है उसमे वो पंतजलि से contract कर के एलोवेरा की खेती कर रहे है ऑर लाखो रूपए कमा रहे है |

एरोवेरा का business करते वक़्त यह रखे सावधानी –

  • यह business शुरू करने से पहले आप कम्पनी से समझोता कर ले |
  • आपको जिस राज्य में जिस कम्पनी में अपना production देना है वहा की सभी जानकारी प्राप्त कर के ही इस business को करे |
  • रोपाई के आठ से दस महीने बाद ही कटाई करे |
  • जिन इलाके में व राज्य में जलभराव की समस्या आती है वहा न करे यह business |
  • कोई भी कीटनाशक दवाई न डाले |

ऐसे ही फायेदे बंद व लाभ देने वाले बिज़नस के लिये नीचे दिये हरी घंटी से हमारी वेबसाइट से जुड़े | जिससे नया बिज़नस आप के पास फोन में पहुचे |

यह जानकारी अपने किसान भाई और मित्रो के साथ शेयर जरुर करे | व हमारी वेबसाइट के बारे में बताये | जो भारत के किसान भाई व हर उस व्यक्ति के लिये काम कर रहे है | जो अपने जीवन में सफल होना चाहते है |

किसी भी प्रकार कि बात पूछने के लिए हमे comment करे |इस article को पढने के लिये व अपना कीमती वक़्त देने के लिये बहुत बहुत धन्यवाद |

आप हमसे टेलीग्राम पर भी जरुर जुड़े जिससे हर पोस्ट आप तक पहुचे | यदि आप गूगल क्रोम का यूज़ कर रहे तो नीचे दिया टेलीग्राम का लिंक काम नहीं कर रहा है | तो आप other ब्राउज़र का उपयोग करे या टेलीग्राम पर जा कर सर्च करे @everythingpro_in और ज्वाइन करे |

Please share your friends

5 thoughts on “एलोवेरा की खेती ( Aloevera farming business ) 1 बीघा में एक बार 40 से 50 हज़ार रूपए खर्च पर 5 साल तक देता है लाखो रूपए पढ़िए पूरी जानकारी – –”

Leave a Comment

error: Content is protected !!